भारत में कमोडिटीज ट्रेडिंग

Spread bet or trade CFDs on commodities including Gold and Crude Oil on an award-winning MT4 platform.

कमोडिटी बाज़ार

मक्का, गेहूं, ऑयल और कीमती मेटल जैसा भौतिक कच्‍चा माल कमोडिटीज हैं। इन क्रूड कमोडिटीज के लिए सभी समझौते और अनुबंध खरीदना और बेचना कमोडिटीज ट्रेडिंग के रूप में जाना जाता है। भौतिक रूप से इन वस्‍तुओं का आप जितना आदान-प्रदान कर सकते हैं, उतनी ही ट्रेडिंग फ्यूचर्स अनुबंधों में होती है। ट्रेडर विशिष्ट कीमत और तारीख पर कमोडिटी खरीदने या बेचने के लिए सहमत होते हैं।

जहां निवेशक फंड देने और कमोडिटीज पर सट्टा लगाने के लिए सहमत हों वहां कमोडिटी ट्रेडिंग है। स्टॉक ट्रेडिंग या फॉरेक्‍स ट्रेडिंग से इसकी काफी समानताएं हैं। फिर भी, शेयरों की खरीद और बिक्री की बजाय, मुनाफा कमाने के लिए निवेशक किसी ट्रेड कमोडिटी पर सट्टा लगाएगा। कमोडिटीज वे वस्तुएं हैं जिनमें आंतरिक मूल्य और सप्‍लाई की स्थिरता होती है और यह एक से अधिक सप्‍लायरों से आ सकती हैं।

ट्रेडिंग की निर्भरता सप्‍लाई और मांग पर है क्योंकि जब सप्‍लाई सीमित होगी, तो वस्तु की कीमत बढ़ेगी। सप्‍लाई अचानक बढ़ने से वस्तु की कीमत में तेजी से गिरावट आएगी। इस तरह, कमोडिटी बाजार में मांग और सप्‍लाई के लेवल से कमोडिटी ट्रेडिंग प्रभावित होती है।

विभिन्न कमोडिटीज की ट्रेडिंग करने और डेरिवेटिव अनुबंधों पर सहमत होने के इच्‍छुक बाजार के प्‍लेयरों को कमोडिटीज एक्सचेंज से डील करना होगा। डेरिवेटिव अनुबंध आमतौर पर ऐसे समझौते या ट्रेड करने योग्य अनुबंध होते हैं जिनका मूल्य एसेट की कीमत अनुसार बदलता है, न कि एसेट के स्वामित्व अनुसार। गोल्‍ड जैसी कमोडिटीज पर भौतिक स्वामित्व के बिना ट्रेडिंग करना कमोडिटीज एक्सचेंज सुविधाजनक बनाता है। सर्वाधिक प्रसिद्ध कमोडिटी एक्सचेंजों में से कुछ में न्यूयॉर्क मर्केंटाइल एक्सचेंज (NYMEX) है। सट्टेबाजी और जोखिम मैनेजमेंट के लिए शिकागो मर्केंटाइल एक्सचेंज (CME) में सबसे विविध ट्रेडिंग योग्य डेरिवेटिव हैं।

कमोडिटी ट्रेडिंग

कमोडिटी की कीमत में कैसा उतार-चढ़ाव होगा, कमोडिटीज ट्रेड में इस पर दांव लगाना होता है। जब लोग अनुमान लगाते हैं कि कीमतें बढ़ेंगी, तो वे फ्यूचर्स (लॉंग पोजीशनें) खरीदते हैं। जब उन्हें लगे कि कीमत गिरेगी, तो वे फ्यूचर्स (शॉर्ट पोजीशनें) बेचते हैं।

हालांकि आप भौतिक कमोडिटी खरीदने और उसे स्वयं बेचने का विकल्प चुन सकते हैं, लेकिन फ्यूचर्स अनुबंधों की ट्रेडिंग करने वाले लोग ढूंढना सामान्‍य है। अन्य नियमों के अलावा अनुबंधों में डिलीवरी की तारीखें, कीमतें और मात्रा की विशिष्टताएं होती हैं। महत्वपूर्ण निर्माता और बड़े पैमाने पर उपभोक्ता कीमत में उतार-चढ़ाव से खुद को बचाने के लिए जोखिम मैनेजमेंट के लिए ग्‍लोबल कमोडिटीज अक्‍सर ट्रेड करते हैं।

हाल ही में इंटरनेट पर कमोडिटीज ट्रेडिंग ने अनेक निवेशकों को इस उद्यम की ओर आकर्षित किया है। पारंपरिक कमोडिटीज की ट्रेडिंग के मुकाबले ट्रांजेक्‍शन सुविधा और आसानी बढ़ी है। कमोडिटीज ऑनलाइन ट्रेड करने पर, निवेशकों को ऑर्डर देने के लिए एक्सचेंज पर किसी ब्रोकर से संपर्क करने की जरूरत नहीं होती। ट्रेडर के रूप में आपको जो भी चाहिए वह ऑनलाइन ट्रेडिंग अकाउंट में आसानी से उपलब्ध है। आवश्यक सभी चार्ट देखने और अपने लिए जरूरी सभी विश्लेषण टूलों के लिए आप  कमोडिटी अकाउंट उपयोग कर सकते हैं।

ऑनलाइन कमोडिटी ट्रेडिंग से निवेशकों को बढ़त मिलती है क्योंकि उन्‍हें पुराने समय के विपरीत, तुरंत डिलीवरी या ट्रेडों के निपटान का आनंद मिलता है। कागजी सर्टिफि‍केट रखने की जरूरत नहीं, परिणामस्वरूप, निवेशक यदि नवीन अवसर देखे तो तुरंत अपने ट्रेडों को अपग्रेड कर सकता है। कुछ स्‍ट्रेटजियाँ, जैसे छोटे मूल्य उतार-चढ़ाव को स्केल करना वॉकओवर बन जाती हैं।

कमोडिटीज और कमोडिटी स्टॉक की व्यापक उपलब्धता के कारण पोर्टफोलियो का विविधीकरण बहुत आसान है। ऑनलाइन कमोडिटी ट्रेडिंग के संबंध में एक रहस्य यह है कि अधिकांश में बहुत कम या कोई संबंध नहीं होता। इक्विटी के साथ आप कीमतें अलग-अलग दिशाओं में जाने की उम्मीद कर सकते हैं। यह इक्विटी पोर्टफोलियो ट्रेडिंग के समय अनुभव होने वाले कीमत के झटकों से बचाव करता है। यह जोखिम से बचने वाले ट्रेडरों के लिए आकर्षक बनाता है।

अंतर्राष्ट्रीय कमोडिटीज ट्रेडिंग बाज़ार में उच्च लिक्विडिटी से सट्टेबाजों को अतिरिक्त बढ़त मिलती है क्योंकि यह ट्रेडिंग के अनेक अवसरों को आकर्षित करती है। लिक्विड एसेट केवल ऐसे एसेट हैं जिन्हें आप लंबे समय तक ऑर्डर की कतार के बिना आसानी से खरीद और बेच सकते हैं। इसलिए, सभी फ्यूचर्स अनुबंध लिक्विड एसेट वर्ग में आते हैं।

कमोडिटीज निवेश के 4 प्रकार

1. कमोडिटी में भौतिक रूप से निवेश करें

किसी कमोडिटी में निवेश का सबसे सीधा तरीका वह कमोडिटी भौतिक रूप से खरीदना है। कमोडिटीज इनवेस्‍टमेंट का यह सबसे पुराना तरीका है। भौतिक कमोडिटीज उपयोगी न लगने पर उन्‍हें आप अच्छे दामों पर बेच सकते हैं। बहरहाल, इसमें अनेक तार्किक चुनौतियाँ हैं क्योंकि आपको भंडारण और सुरक्षित वितरण की योजना बनानी होगी। 

ऐसी ही एक तरकीब है क्‍वॉयन डीलर तलाश कर गोल्‍ड खरीदना। क्‍वॉयन डीलरों के पास विभिन्न आकार, गुणवत्ता और दुर्लभता में गोल्‍ड के क्‍वॉयन और छड़ें उपलब्ध हैं। उनमें से अधिकांश के पास वर्षों पहले ढाले गए थे और क्‍वॉयनों की कीमतें अधिक होंगी।

आकार के कारण, आप अधिकांश कमोडिटीज के मुकाबले गोल्‍ड क्‍वॉयन अनेक सुविधाओं में पा सकते हैं। इसी के साथ, गोल्‍ड क्‍वॉयन अपने साथ ले जाना अपेक्षाकृत आसान है। लेकिन, गोमांस मवेशी, क्रूड ऑयल और मकई की बोरियां जैसी कुछ कमोडिटीज भारी और असुविधाजनक हैं। व्यक्तिगत निवेशकों को अधिकांश अन्य भौतिक कमोडिटीज के परिवहन के लिए मदद की जरूरत होगी।

2. फ्यूचर्स अनुबंधों में पैसा निवेश करें

फ्यूचर्स अनुबंध खरीदने के लिए निवेशक को पूंजी चाहिए। अपने ऑनलाइन ब्रोकरेज अकाउंट में आप मार्जिन अपेक्षाएं डिपॉजिट कर अवसर आते ही ट्रेड कर सकते हैं। मार्जिन अपेक्षाएं छोटी हैं, इसलिए ट्रेडिंग स्टॉक के मुकाबले ट्रेडों में अधिक जोखिम होता है।

3. कमोडिटी स्टॉक खरीदें और बेचें

कमोडिटीज में निवेश करने का अप्रत्यक्ष लेकिन आसान तरीका ऐसी कंपनियों में स्टॉक खरीदना है जो इन कमोडिटीज का खनन करती हैं। आप ग्लेनकोर (ऑयल, गैस और कोयला) या एंग्लोगोल्ड (गोल्‍ड और प्लैटिनम) जैसी कंपनियों से एनर्जी या मेटल स्टॉक खरीद सकते हैं। इन कंपनी शेयरों की कीमतों में कमोडिटी कीमतों से सीधे उतार-चढ़ाव नहीं होता।

4. कमोडिटी ETF और विविध कमोडिटी म्यूचुअल फंड में निवेश करें

कुछ निवेश फंड कमोडिटीज में एक्‍सपोजर ऑफर करते हैं। कमोडिटीज रखने से बचने के लिए आप इन ETF में ट्रेडिंग कर सकते हैं। निवेश फंड कमोडिटीज, कमोडिटी के स्टॉक या दोनों के मिश्रण में निवेश करते हैं।

NYSE पर उपलब्ध SPDR गोल्ड ट्रस्ट ETF ($GLD) निवेश फंडों के अच्छे उदाहरणों में है। ऑयल की कीमतों पर तेजी का दांव लगाने के इच्‍छुक निवेशक यूनाइटेड स्टेट्स ऑयल फंड ($USO) में निवेश करेंगे।

कुछ फंड विभिन्न कमोडिटीज के समूह में निवेश के अवसर ऑफर करते हैं। iShares S&P कमोडिटी-इंडेक्स्ड ट्रस्ट प्रदान करता है, एक फंड बेंचमार्क जिसमें स्‍प्रेड-आऊट-सेक्‍टरों की सूची में 24 विभिन्न कमोडिटीज शामिल हैं।

निवेश का प्रकार आर्डर उदाहरण कहां से पाएं
भौतिक निवेश
गोल्‍ड क्‍वॉयन
भौतिक डीलर और बुलियन ट्रेडर
फ्यूचर्स अनुबंध
ऑनलाइन ब्रोकर
ATFX जैसे ऑनलाइन ब्रोकर
कमोडिटी स्टॉक
SINOPEC Shangai Petrochemical Company, Ltd #SHI
ATFX जैसे ऑनलाइन ब्रोकर
ETF/म्यूचुअल फंड
SPDR गोल्‍ड ट्रस्‍ट
ATFX जैसे ऑनलाइन ब्रोकर

ATFX कैसी कमोडिटीज ऑफर करता है?

कमोडिटीज ब्रोकर

घर से कमोडिटीज की ट्रेडिंग करते समय, पारंपरिक फ़्लोर ट्रेडिंग की सभी अव्यवस्थाओं से आपको नहीं जूझना पड़ता। आप सीधे अपने होम कंप्यूटर या टैबलेट से ट्रेड कर सकते हैं। सुविधा और पारदर्शिता से चलते-फिरते भी ट्रेड करना संभव हो जाता है।

पिछले कुछ वर्षों में अनुभव की गई अधिकांश सुविधा के लिए ब्रोकरेज का आभारी होना चाहिए। निवेशकों को सही ट्रेडिंग टूल से अत्याधुनिक कमोडिटी ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म तकनीक देने के लिए ब्रोकरेज जिम्मेदार हैं। एक ही जगह से ट्रेडिंग प्लेटफ़ॉर्म रियल टाइम विश्लेषण और तकनीकी शिक्षा देते हैं।

बहरहाल, आपको अच्छा ट्रेडिंग ब्रोकर पाने की जरूरत है जो आपको किफायती कमीशन पर सही टूल ऑफर करे। अत्याधुनिक प्लेटफ़ॉर्म और उन तक आसान एक्‍सेस से सुनिश्चित होगा कि समय पर निर्णय लेकर आप अवसरों का लाभ उठा सकें। जब भी आपका ब्रोकर मेहनती होगा, आपको तकनीकी अपडेट पर नियमित पत्राचार मिलेगा जो आपका ट्रेडिंग अनुभव बेहतर करेगा। उदाहरण के लिए, प्लेटफ़ॉर्म पर अपडेट या नए इंस्‍ट्रूमेंट जोड़ने की रूचिकर जानकारी संबंधी आपको ईमेल मिलेंगे।

अच्छी कमोडिटी ट्रेडिंग कंपनी सुनिश्चित करती है कि लाइव चैट या सोशल ट्रेडिंग सहित उसके प्लेटफॉर्म से आपको सही कस्‍टमर सपोर्ट मिले। बुनियादी ढांचे में भी कम से कम अंतराल या स्लिपेज होनी चाहिए।

ATFX से कमोडिटीज ट्रेड क्यों करें?

ATFX कुछ सबसे अधिक प्रतिस्पर्धी स्प्रेड ऑफर करता है।

फ्री ट्रेडिंग टूल आपको स्थितियों का बेहतर विश्लेषण करने देते हैं।

दुनिया के सबसे लोकप्रिय ट्रेड प्लेटफॉर्म MT4 पर ट्रेड करें।

कमोडिटी ट्रेडिंग प्लेटफार्म

बाज़ार में इतने सारे हितधारक होने के कारण, ऐसा एकीकृत स्थान हो जहाँ वे सभी आसानी से बातचीत कर सकें। कमोडिटी ट्रेडिंग सॉफ्टवेयर प्लेटफ़ॉर्म पर होती है जहां सभी किसान, प्रोड्यूजर, निवेशक और विश्लेषक एक जगह ऑनलाइन संवाद करने में सक्षम होते हैं। आपका कमोडिटी ब्रोकर डाउनलोड करने योग्य कमोडिटी ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म देता करता है जहां आप पारदर्शी, सुरक्षित और नियंत्रित वातावरण में ट्रेड कर सकते हैं।

ट्रेडरों को यह सुनिश्चित करने के लिए लाइसेंस प्राप्त ब्रोकरों से ही डील करना चाहिए कि वे विश्वसनीय और जवाबदेह इकाई में निवेश करें। ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म की रेटिंग करते समय आपको जिन कुछ मापदंडों पर विचार करना चाहिए उनमें शामिल हैं:

1. प्लेटफार्म की सुरक्षा

अत्याधुनिक कमोडिटी ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म को इसे प्रदान करने वाले वित्तीय संस्थान की प्रतिष्ठा उजागर होनी चाहिए। दूसरे शब्दों में, बहुत सारी चूक, सुरक्षा उल्लंघन और खामियां होने का मतलब है कि कमोडिटी ब्रोकर भरोसेमंद नहीं है। लाइसेंस होने के अलावा, प्लेटफ़ॉर्म पर किए गए निवेश का ब्रोकर के पास बीमा भी होना चाहिए। प्लेटफ़ॉर्म सुरक्षा ट्रेडिंग का अनिवार्य पहलू है क्योंकि वेबसाइट को SSL प्रमाणन जैसे सभी सुरक्षा क्रेडेंशियल्स पूरा करने की जरूरत होती है, ताकि सुनिश्चित हो सके कि किसी भी प्‍वाईंट पर केवल आप ही प्लेटफ़ॉर्म तक एक्‍सेस हो। यह URL घुसपैठियों को दूर रखता है।

2. सुविधाजनक डिपॉजिट और निकासी ऑप्‍शन

कमोडिटी ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म पर अपनी कमाई डिपॉजिट करने या निकासी में सक्षम होना महत्वपूर्ण है। कैश बैलेंस में देरी से होने वाली किसी भी चुनौती के बिना तत्काल ट्रेडिंग निर्णय करने में इससे आपको मदद मिलेगी। नकदी निकासी और योजना अनुसार अपना खर्च फाइनेंस करने का भी आपको मौका मिलता है।

3. प्रशिक्षण और शिक्षा

कमोडिटी ट्रेडिंग उच्च जोखिम की ट्रेडिंग है। इसी कारण, आपको ऐसा प्लेटफ़ॉर्म चाहिए जो आपको अपनी ट्रेडिंग सुविधा दे और समय पर आपको मौलिक और विश्लेषणात्मक जानकारी प्रदान करे। कमोडिटी ट्रेडिंग में, जानकारी और आप इसे कितनी जल्‍द प्राप्त कर सकते हैं, इससे बड़ा वित्तीय अंतर आ सकता है।

अकाउंट के लिए रजिस्‍टर करें

1.

अपना अकाउंट ओपन करें

लाइव ट्रेडिंग अकाउंट आवेदन फार्म पूरा करें। हमारे द्वारा आपकी पहचान सत्यापित हो जाने पर, हम आपका अकाउंट सेटअप कर देंगे।
2.

अपने अकाउंट में फंड डालें

ट्रेडिंग शुरू करने के लिए क्रेडिट कार्ड, ई-वॉलेट या बैंक ट्रांसफर से फंड डिपॉजिट करें।

3.

ट्रेडिंग शुरू करें

पीसी, एंड्रॉइड, आईपैड और आईफोन सहित हर डिवाइस पर या वेब ब्राउज़र से ट्रेड करें।

सामान्य प्रश्न

कमोडिटीज को दो उपवर्गों में विभाजित किया जा सकता है, ठोस कमोडिटीज (जैसे ऑयल, गोल्‍ड और रबर) और नरम कमोडिटीज (जैसे कॉफी, गेहूं और मक्का)। ठोस कमोडिटीज की कीमत आमतौर पर अधिक होती है, लेकिन कमोडिटीज बाजार में दोनों बड़े पैमाने पर ट्रेड होती हैं। दुनिया भर में अनेक अलग-अलग एक्सचेंजों में कमोडिटीज की ट्रेडिंग की जाती है। यूके में, ऑयल, गैस और अन्य एनर्जी कमोडिटीज इन्वेस्टमेंट एक्सचेंज (COMEX) में और गैर-कीमती मेटल की ट्रेडिंग लंदन मेटल एक्‍सचेंज (LME) में की जाती हैं। ATFX में, अपने ग्राहकों को हम उनके घरों में आराम से एक ही जगह पर आकर्षक बाजार में एक्‍सेस और कमोडिटीज ट्रेड करने देते हैं।

कमोडिटीज में निवेश शुरू करने का यदि आपने स्मार्ट ऑप्‍शन चुना है, तो यहां दी गई बेहद सरल 5-स्‍टेप की मार्गदर्शिका आप फॉलो कर सकते हैं:


1. ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म चुनें

विभिन्न प्रकार की कमोडिटीज में ट्रेडिंग करने की सुविधा वाले (कृपया ध्यान रहे कुछ ब्रोकरों के पास अब भी कमोडिटी ट्रेडिंग सुविधाएं नहीं हैं) भरोसेमंद और लाइसेंस प्राप्त कमोडिटीज ब्रोकर चुनकर शुरु करें। सर्वोत्तम प्लेटफार्मों पर कमोडिटीज की व्यापक विविधता होती है, जहां कम शुल्क और कम न्यूनतम डिपॉजिट पर ट्रेडिंग की जा सकती है। आप 2 मिनट से कम समय में ATFX जैसे कमोडिटी ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म पर अकाउंट क्रिएट कर सकते हैं। नए निवेशकों को ऑनलाइन कमोडिटी अकाउंट ओपन करने के लिए नाम जैसे पहचान विवरण देने होंगे। फिर हर बार अपना अकाउंट लॉगिन करने और जांचने के लिए मजबूत पासवर्ड बनाना होगा। उसी ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म के अन्य सदस्यों से आपको अलग करने के लिए यह पर्याप्त होना चाहिए। 

 

2. अपना पहला डिपॉजिट करें

कमोडिटीज ट्रेडिंग शुरू करने के लिए विभिन्न ब्रोकर अलग-अलग न्यूनतम डिपॉजिट ऑफर करेंगे। इनमें से कुछ $10 से शुरू होते हैं, लेकिन अपना समय देखते हुए आप चाहेंगें कि $500 या अधिक हों। ऐसा कमोडिटीज ट्रेडिंग प्लेटफ़ॉर्म चुनें जो प्रमुख करेंसियों में किए गए भुगतान के डिपॉजिट पर शुल्क न लेता हो। आपको विभिन्न डिपॉजिट विकल्पों जैसे बैंक डिपॉजिट, डेबिट/क्रेडिट कार्ड डिपॉजिट और पेपैल की भी एक्‍सेस मिलनी चाहिए। इलेक्ट्रॉनिक डिपॉजिट सॉल्‍यूशन या क्रेडिट कार्ड डिपॉजिट निवेशक के पसंदीदा हैं क्योंकि वे ब्रोकर को चेक मेल करने के विपरीत त्‍वरित बैलेंस दर्शाते हैं। अनेक मामलों में, आप पाएंगे कि डिपॉजिट के लिए आपने जो विधि अपनाई, निकासी के लिए भी वही विधि अपनानी होगी। 

 

3. कमोडिटी बाजार पर शोध करें

जैसाकि आप शायद कमोडिटीज पर डेमो ट्रेडिंग करते रहे हैं, अब आप कमोडिटी बाजार में गहन रिसर्च कर सकते हैं और कुछ आशाजनक कमोडिटीज चुन सकते हैं। संबंधित बाज़ार पर रिसर्च कर प्रत्येक कमोडिटी का व्यवहार प्रभावित करने वाले मूलभूत मुद्दों से उसे जोड़ने पर विचार करें। इस मामले में, आपको देखना चाहिए कि प्रत्येक कमोडिटी की मांग और सप्‍लाई पर क्या प्रभाव पड़ता है और उनकी कीमतें व्यापक आर्थिक इंडीकेटरों को कैसे प्रभावित करती हैं। इसे ध्यान में रखते हुए कि अधिकांश ट्रेडिंग दिनचर्या के लिए मनोवैज्ञानिक संयम भी चाहिए, बाजार पर रिसर्च करने के लिए समय निकालने से ट्रेडिंग करते समय आपको अधिक आत्मविश्वास होगा। इससे पता चलता है कि आपने सोच-समझकर निवेश किया, बिना सोच-समझ के फैसले से नहीं। ट्रेडिंग की योजना बनाने और उसे क्रियान्वित करने में 30 मिनट लगाने से आपको अपने बैंकरोल के विरुद्ध जा रहे ट्रेडों को सही करने के मकाबले काफी अधिक बचत होगी।

 

4. अपना पहला ट्रेड चुनें

ट्रेड के लिए पसंदीदा कमोडिटी ढूंढने के बाद, आप सही कीमत निर्धारित कर सकते हैं ताकि आप ट्रेड कर सकें। चार्ट और उसके अनुरूप कीमतें देखने के लिए सटीक टिकर पहचानें। यह आपकी तकनीकी और बुनियादी अपेक्षाओं के अनुरूप होना चाहिए। कुछ तकनीकी अपेक्षाओं में शामिल है कि कीमत के निश्चित लेवल पर पहुंचने पर उसने ऐतिहासिक रूप से कैसी प्रतिक्रिया की। उदाहरण के लिए, आप देख सकते हैं कि कमोडिटी की कीमत ऐतिहासिक निम्न लेवल पर है या उच्चतम लेवल पर है। ऐतिहासिक निचले लेवल पर ट्रेडिंग करते समय लोग कमोडिटी अधिक खरीदते हैं क्योंकि वे समय कीमत बढ़ने पर दांव लगाना चाहते हैं। कम कीमत पर खरीदने या अधिक कीमत पर बेचने में हमेशा अच्छी वित्तीय समझ है। जो निवेशक बड़े ट्रेड कर लंबी अवधि तक प्रतीक्षा करते हैं, वे भारी लाभ पा सकते हैं क्योंकि जब कीमतें ऐतिहासिक निम्न या ऐतिहासिक ऊंचाई पर पहुंचती हैं तो उनमें उलटफेर होता है।

 

5. अपना पहला ट्रेड निष्पादित करें

पहला ट्रेड निष्पादित करने के लिए, जब आपके पास सही प्रवेश शर्तें हों, तो वह राशि चुनें जिसे आप जोखिम में डालना चाहें और विशिष्ट कमोडिटी इंस्‍ट्रूमेंट में निवेश करना चाहते हों। ट्रेड ओपन करें, सही ट्रेड साइज चुनें और अपना ऑर्डर दें।

 

आपना ऑर्डर देने पर, आपको मॉनिटर करना चाहिए कि यह आपके पक्ष में है या नहीं। अनुभवी निवेशकों द्वारा उपयोग की जाने वाली एक तरकीब यह है कि पहले विशिष्ट निवेश राशि ध्यान में रखें। इसके बाद, वे कुल राशि का निश्चित प्रतिशत अलग-अलग ट्रेडों में तब तक रखेंगे जब तक कि उनके द्वारा बजट की राशि पूरी नहीं हो जाती। उदाहरण के लिए, यदि आप निश्चित स्थिति में $100 का निवेश करना चाहें, तो आप $20 के ट्रेड से शुरु कर सकते हैं और जैसे-जैसे ट्रेड आपके अनुमानित रुझान की ओर बढ़े, पूरे $100 तक जोड़ते जा सकते हैं।

स्टॉक या करेंसियां खरीदना पार्क में टहलने जैसी जगह ढूंढने जैसा हो सकता है, लेकिन कमोडिटीज के मामले में यह वैसा नहीं। अधिकांश ब्रोकर अपने प्लेटफॉर्म पर कमोडिटी ट्रेडिंग सपोर्ट नहीं करते। इसलिए, आपको ऑनलाइन ब्रोकर ढ़ंढने के लिए जानना होगा कि कौन सा ब्रोकर अपने प्लेटफॉर्म पर कमोडिटी ट्रेडिंग सपोर्ट करता है। यदि ऐसा हो भी, तो देखना होगा कि कौन सा कमोडिटीज ब्रोकर उन कमोडिटीज में ट्रेडिंग पोजीशन ऑफर करता है, जिनमें आपको ट्रेड करना है। ये विभिन्न रूपों में होंगे, जैसे फ्यूचर्स या ऑप्‍शन। ब्रोकर के माध्यम से कमोडिटीज ट्रेड का अच्‍छा तरीका ETF है । 

 

ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर कमोडिटी ट्रेडर के रूप में जब भी आपको अपनी यात्रा शुरू करनी हो तो उपलब्ध प्लेटफार्मों के आकलन से ली जाने वाली फीस पर गौर करें। शुल्क महत्वपूर्ण हैं क्योंकि आप ऐसे प्‍लेटफार्म पर नहीं रूकना चाहेंगे जो शुल्क और कमीशन के निपटान के तौर पर आपके मुनाफे का बड़ा हिस्सा काटे। आपका ट्रेडिंग अनुभव आपके और आपके ब्रोकर, दोनों के लिए उचित होना चाहिए।

 

ATFX प्लेटफ़ॉर्म पर जब आप ट्रेड करते हैं, तो आप सही चार्टिंग टूल का आनंद लेकर संभावित ट्रेड चुनने में अपनी सहायता के लिए तकनीकी इंडीकेटर प्राप्त करेंगे। ट्रेडरों को ऐतिहासिक ऊंचाई या नीचे ट्रेडिंग करने वाली कमोडिटीज और कुछ संभावित आवर्ती रुझानों को तकनीकी इंडीकेटर पहचानते हैं। जिन निवेशकों को वित्तीय इंस्‍ट्रूमेंटों में ट्रेडिंग करने का पिछला अनुभव नहीं, उन्हें प्रशिक्षण टूल और मैनुअल डाउनलोड करने को मिलते हैं जो उन्हें अपनी ट्रेडिंग सुव्यवस्थित करने और हर ट्रेडिंग सप्ताह में आने वाले हजारों अवसरों में भाग लेने में सक्षम बनाएंगे।

 

कमोडिटीज कहां ट्रेड करनी हैं इसे चुनते समय आपको डिपॉजिट और निकासी की सुविधा और सहजता ध्यान में रखने का जरूरी निर्णय लेना होगा। किसी अजनबी से आमने-सामने कमोडिटीज ट्रेड कर चेक या नकदी से भौतिक डिलीवरी के मुकाबले ऑनलाइन ब्रोकर का उपयोग करना तीव्र, सुरक्षित और अधिक गोपनीय है। जब आप ऑनलाइन कमोडिटीज ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म चुनते हैं, तो आपको केवल अपने द्वारा मैनेज किए गए अकाउंट में इलेक्ट्रॉनिक रूप से कैश डिपॉजिट करना होगा। ओपन होने के समय की तार्किक बाधाओं के बिना आप किसी भी समय अपने कमोडिटी अकाउंट में एक्‍सेस कर अपना बैलेंस मॉनिटर कर सकते हैं। 

 

ऑनलाइन कमोडिटीज ट्रेड करने का स्थान चुनते समय, रिसर्च करने और यह देखने के लिए आपका स्वागत है कि प्लेटफ़ॉर्म क्या ऑफर करते हैं और यथासंभव अधिक समीक्षाओं पर विचार करते हैं। अच्छी समीक्षाएँ आपको इस निष्कर्ष पर पहुंचाती हैं कि आपका ट्रेडिंग अनुभव कितना अच्छा रहेगा।

अब जब आप जानते हैं कि निवेश के लिए तैयार होने पर कमोडिटीज कहां ट्रेड करनी हैं, आपको जानना होगा कि कमोडिटीज बाजार में अपना ट्रेड करने के लिए किसे इस्‍तेमाल किया जाए। छोटी सी कमीशन देने के लिए आपके सहमत होने पर कमोडिटीज ब्रोकर ऐसी संस्था है जो आपको अनुबंध करने की जरूरी सभी सुविधाएं देती है। कमोडिटीज ब्रोकर के साथ अकाउंट ओपन करने पर ट्रेडर के रूप में आप लाइनअप दिखाई देंगे। फिर आप कमोडिटीज ट्रेड करने में फ्यूचर्स, ऑप्‍शन या ETF के रूप में कमोडिटीज ट्रेडर के रूप में सक्षम होंगे। .

 

कमोडिटीज ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म इस्‍तेमाल करते समय आपको मिलने वाली सभी सर्विसेस के लिए, कमोडिटी ब्रोकर को इनपुट के मुआवजे के तौर पर कमीशन प्राप्त होगा। कमीशन उन सभी ट्रेडों का निश्चित प्रतिशत होता है जो आप पोजीशन ओपन करने से लेकर ट्रेड से बाहर निकलने तक करते हैं। कमोडिटी ब्रोकर आपको सुरक्षित और सुविधाजनक वातावरण में धन और वित्तीय इंस्‍ट्रूमेंटों के सहज आदान-प्रदान की सुविधा देते हैं। इसलिए, वे आपको सर्वोत्तम सर्विसेस देते हैं और उनकी ट्रेडिंग सुविधाओं के उपयोग से आपके द्वारा निष्पादित किए जाने वाले ऑर्डर में एक छोटी सी कटौती करते हैं। 

 

अपेक्षा के रूप में, अच्छा कमोडिटी ट्रेडिंग संस्थान सभी निर्धारित लाइसेंसिंग प्रक्रियाएं फॉलो करेगा और आपके पैसे की सुरक्षा की सभी सुरक्षा अपेक्षाएं पूरी करेगा। अनियमित ब्रोकरों से बचें ताकि आप जोखिमपूर्ण स्थितियों में न उलझें जो आपकी पूंजी खतरे में डालें। 

 

अपना सारा कमोडिटी इनवेस्‍टमेंट ऐसी वेबसाइट से करें जिससे आपकी पूंजी डिपॉजिट करना और जरूरत पड़ने पर अपनी आय की निकासी आसान हो जाए। अपने ब्रोकर की ओर से सुरक्षा के लिए, सुनिश्चित करें कि घुसपैठियों को आपकी निजी जानकारी तक एक्‍सेस से दूर रखने के लिए वेबसाइट में नवीनतम सुरक्षा स्‍टैंडर्ड हों। पुष्टि करें कि क्या आपके ब्रोकर के पास घुसपैठियों को रोकने के लिए उनकी वेबसाइट पर SSL सर्टिफि‍केट (सिक्योर सॉकेट लेयर) है। इसका सर्टिफि‍केट वेबसाइट फ़ुटनोट पर प्रदर्शित होगा या आप इसे वेबसाइट URL से भी देख सकते हैं। वेबसाइट URL में ‘लॉक’ आइकन होगा जो दर्शाएगा कि इसमें नवीनतम SSL अपडेट और डोमेन क्लोनर्स की सुरक्षा है।

ATFX

Account Registration Unavailable

Please note that you may be accessing this page from outside India. For retail and professional inquiries regarding AT Global Markets LLC, kindly reach out to us at [email protected].

ATFX

Restrictions on Use

ATFX

使用限制

ATFX

使用限制

ATFX

使用限制

ATFX

使用限制

ATFX

Restrictions on Use

ATFX

Restrictions on Use

ATFX

Restrictions on Use

ATFX

Restrictions on Use

ATFX

Restrictions on Use

ATFX

Restrictions on Use

ATFX

Restrictions on Use

ATFX

Restrictions on Use

Products and Services on this website https://www.atfx.com/hi-in/ are not suitable in your country. Such information and materials should not be regarded as or constitute a distribution, an offer, or a solicitation to buy or sell any investments.

ATFX

Restrictions on Use

ATFX

Restrictions on Use